बंद करे

स्थानीय

Barchur_water_Fall

अन्य वॉटर फॉल पन्ना जिले के

पबलिश्ड ऑन: 21/07/2021

पन्ना जिले में कई महत्वपूर्ण वॉटर फॉल है। जो पर्यटन का केंद्र बने हुए हैं।

और
कलेही शिवा

अन्य स्थानीय मंदिर पन्ना जिले के

पबलिश्ड ऑन: 20/07/2021

पन्ना जिला अपने कई स्थानीय मंदिरों के लिए मशहूर है।

और
ramjanki mandir

रामजानकी मंदिर

पबलिश्ड ऑन: 20/07/2021

रामजानकी मंदिर मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में हिन्दू समाज के लिए प्रसिद्ध है। मंदिर का समय प्रतिदिन: (सुबह 4:30 बजे, शाम 6:30 बजे)

और
बृहस्पति कुंड

बृहस्पति कुंड

पबलिश्ड ऑन: 20/07/2021

बृहस्पति कुंड (बृहस्पति कुंड) मध्य प्रदेश के पन्ना जिले, बुंदेलखंड में स्थित एक प्राकृतिक गड्ढा है। यह स्थानीय लोगों के बीच लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। पन्ना से दूरी 25 किमी और कालिंजर किले से दूरी 18 किमी दक्षिण की ओर है

और
अजयगढ़ का किला

अजयगढ़ का किला

पबलिश्ड ऑन: 20/07/2021

खजुराहो से 80 किलोमीटर दूर अजयगढ़ का दुर्ग है। यह दुर्ग चंदेल शासन के अर्धकाल में बहुत महत्त्वपूर्ण था। विन्‍ध्‍य की पहाड़ियों की चोटी पर यह किला स्थित है। किले में दो प्रवेश द्वार हैं। किले के उत्तर में एक दरवाजा और दक्षिण पूर्व में तरहौनी द्वार है। दरवाजों तक पहुंचने के लिए 45 मिनट […]

और
बलदेव जी मंदिर

बलदेव जी मंदिर

पबलिश्ड ऑन: 18/07/2019

बलदेवजी मंदिर एक रोमन वास्तुकला से प्रेरित है और इसमें एक गॉथिक अनुभव है। मंदिर में बड़े स्तंभों के साथ महा मंडप नामक एक बड़ा हॉल है और इसे एक उभरे हुए मंच पर बनाया गया है ताकि मुख्य द्वार के बाहर से भी दर्शन प्राप्त किया जा सके। श्री बालदेवजी की आकर्षक प्रतिमा का […]

और
jugal kishore ji

जुगल किशोर जी मंदिर

पबलिश्ड ऑन: 18/07/2019

जुगल किशोरजी मंदिर का निर्माण पन्ना के चौथे बुंदेला राजा राजा हिंदूपत सिंह ने अपने शासनकाल के दौरान 1758 से 1778 तक किया था। किंवदंतियों के अनुसार, इस मंदिर के गर्भगृह में रखी गई मूर्ति को ओरछा के रास्ते ब्रिंदावन से लाया गया है। स्वामी के आभूषण और पोशाक बुंदेलखंडी शैली को दर्शाते हैं। मंदिर […]

और
गेहूँ

गेहूँ

पबलिश्ड ऑन: 08/07/2019

गेहूँ रबी की प्रमुख फसल है। गेहूँ 105110 हेक्टेयर में बोया जाता है और इसका वार्षिक उत्पादन 336350 टन है।

और
धान

धान

पबलिश्ड ऑन: 08/07/2019

धान खरीफ की प्रमुख फसल है। धान 75660 हेक्टेयर क्षेत्र में बोया जाता है और इसका वार्षिक उत्पादन 194450 टन है।

और